सेंसेक्स और निफ्टी: सेंसेक्स क्या है और निफ्टी क्या है

Print Friendly, PDF & Email

यदि किसी को शेयर्स  में ट्रेडिंग या फिर निवेश करना होता है तो उसे स्टॉक मार्किट में  जाना होता है | भारत में सेंसेक्स और निफ्टी, दो काफी जाने माने स्टॉक एक्सचेंज है जहाँ लोग शेयर्स की खरीद बिक्री करते है | यदि आप सेंसेक्स और निफ्टी के बारे में जानना चाहते है तो इस लेख को पूरा पढ़े |  इस लेख जरिए आप सेंसेक्स और निफ्टी के बारे में बुनियादी जानकरी जानेंगे | इस आर्टिकल में आपको निम्नलिखित विषयों के बारे में जानकारी मिलेगी |

  • सेंसेक्स क्या है और सेंसेक्स का मतलब
  • निफ्टी क्या है और निफ़्टी का मतलब मतलब
  • निफ़्टी एंड सेंसेक्स में क्या क्या अंतर है

सेंसेक्स क्या है और सेंसेक्स का  मतलब :

सेंसेक्स एक ऐसा इंडेक्स या सूचकांक जिसके जरिये हमे इंडियन स्टॉक मार्किट का दशा का अंदाजा मिलता हैं |

सेंसेक्स इंडेक्स का इस्तेमाल बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज करता है |

सेंसेक्स का मतलब : सेंसेक्स दो शब्दों का मेल से बना हुआ शब्द है | सेंसिटिव और इंडेक्स को मिला के  सेंसेक्स शब्द का निर्माण हुआ है | सेंसेक्स एक ऐसा सूचकांक है जो बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सारे स्टॉक्स का रिलेटिव प्राइस मूवमेंट को दर्शाता है | यदि सेंसेक्स हरे निशाँ में है तो उसका मतलब यह होता है की बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के ज्यादातर शेयर्स हरे निशान में होंगे |

सेंसेक्स क्या हैं : सेंसेक्स फ्री-फ्लोट मार्किट-वेटेड स्टॉक मार्किट इंडेक्स है , जिसमे ३० चुनिंदा कंपनियों के शेयर्स को लिया जाता है उसका वैल्यू निकलने में | यह सारी कंपनियां बी. स. ई. पे लिस्टेड कंपनियां होती है | यह ३० कंपनियां बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सबसे बड़े और सबसे एक्टिव स्टॉक्स होते है और यह सारी कंपनियां अपने क्षेत्र की सबसे दिग्गज कंपनियां होती है |  सेंसेक्स के बारे में एक महत्पूर्ण बात यह है की इसके गणना में ३१ शेयर्स को लिए जाता है | टाटा मोटर्स और टाटा मोटर्स डी. वी. आर को लिया गया है जो की एक ही कंपनी का दो प्रकार के शेयर्स है| 

निफ़्टी का मतलब : निफ़्टी को दो शब्दों के मेल से बनाया गया है | नेशनल और फिफ्टी को इस्तेमाल करके निफ़्टी को बनाया गया है |

निफ़्टी क्या है:  निफ़्टी एक ऐसा सूचकांक जिसको नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में मूलभूत सूचकांक क तौर में इस्तेमाल किया जाता है | इसका गणना ५० शेयर्स का भाव को इस्तेमाल करके किया जाता है |  निफ़्टी फ्री-फ्लोट मार्किट-वेटेड स्टॉक मार्किट इंडेक्स है | निफ़्टी की गणना में १२ सेक्टर्स की दिग्गज कंपनी को इस्तेमाल करके किया जाता है |

निफ़्टी और सेंसेक्स के बीच का अंतर

आधार निफ़्टी सेंसेक्स
व्युत्पत्ति निफ़्टी का व्युत्पत्ति नेशनल फिफ्टी शब्द से हुआ है सेंसेक्स का व्युत्पत्ति सेंसटिव से हुआ है
रचना निफ़्टी का रचना ५० शेयर्स को इस्तेमाल करके किया जाता है सेंसेक्स का रचना ३१ शेयर्स को इस्तेमाल करके किया जाता है
सेक्टर्स की शंख्या निफ़्टी के दायरे में २४ सेक्टर्स की कंपनियां आती है सेंसेक्स के दायरे में १२ सेक्टर्स की कंपनियां आती है
स्थापना निफ़्टी का स्थापना २१ अप्रैल १९९६ में हुआ था सेंसेक्स का स्थापना १ सितम्बर २००३ में हुआ था
बेस ईयर निफ़्टी का बेस ईयर १९९५ और बेस वैल्यू १००० अंक है सेंसेक्स का बेस ईयर १९७८-१९७९ है और बेस वैल्यू १०० हैं
विदेशी एक्सचेंज में व्यापार निफ़्टी सिंगापुर और शिकागो के एक्सचेन्जो में व्यापार के लिए उपलब्ध है सेंसेक्स दुबई गोल्ड एंड कमोडिटी एक्सचेंज में व्यापार के लिए उपलब्ध है
संचालन   इंडिया इंडेक्स सर्विसेज एंड प्रोडक्ट्स द्वारा संचालित इंडेक्स है सेंसेक्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज द्वारा संचालित
बाज़ार पूंजीकरण   निफ़्टी का बाज़ार पूंजीकरण करीब करीब २९% है पुरे बाज़ार के तुलना में सेंसेक्स का बाज़ार पूंजीकरण करीब करीब २५% है पुरे बाज़ार के तुलना में

सेंसेक्स और निफ़्टी से जुडी ऐसी ही जानकारी के लिए कृपया नॉलेज सेन्टर  पे जाये |

(नोट : कृपया निवेश और शेयरो के व्यापार करने से पहले खुद एक बार रिसर्च कर ले क्यूँकि  यहाँ पे जो भी जानकारी है वह सिर्फ जानकारी के लिए है और सिर्फ उसी के आधार पे निवेश या फिर शेयर्स व्यापार करना सही नहीं होगा|)  

Leave A Comment?

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.